Generation of Computer

Third Generation – तृतीय जनरेशन (1965-1974)
In the third generation of (कंप्यूटर) computers, it had been used Integrated circuits which made this faster comparatively and reliable as well. In this generation computers are used for scientific, commercial and interactive online applications. Programming was done in high-level programming languages such as COBOL, FORTRAN, and BASIC etc.
इस कंप्यूटर के तृतीय जनरेशन में इंटीग्रेटेड सर्किट्स (आई0सी0) टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया जिससे ये तुलनात्मक भरोसेमंद तथा तेज समझा गया। इस पीढ़ी में कम्प्यूटर का उपयोग वैज्ञानिक, वाणिज्यिक और इंटरैक्टिव ऑनलाईन एप्लीकेशन्स के लिए किया जाता है। प्रोग्रामिंग हाई स्पीड प्रोग्रामिंग भाषाओं जैसे- COBOL, FORTRAN, BASIC आदि में किया गया था।
Fourth Generation – चतुर्थ जनरेशन (1975-Till Date)
In this generation of (कंप्यूटर) computers, there had been used micro processors inside to work far better comparatively. This is the most reliable among and very short in size to be portable anywhere you want. In this generation computers are used for scientific, commercial, interactive online applications and network applications. Programming was done in high-level programming languages such as IBM PC etc.
कंप्यूटर की इस पीढ़ी में, तुलनात्मक रूप से बेहतर काम करने के लिए अंदर माइक्रो प्रोसेसर का उपयोग किया गया था। यह आपके बीच कहीं भी पोर्टेबल होने के लिए सबसे विश्वसनीय और आकार में बहुत कम है। इस पीढ़ी में कंप्यूटर का उपयोग वैज्ञानिक, वाणिज्यिक, इंटरैक्टिव ऑनलाइन अनुप्रयोगों और नेटवर्क अनुप्रयोगों के लिए किया जाता है। प्रोग्रामिंग उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाओं जैसे आईबीएम पीसी आदि में की गई थी।
Fifth Generation – पंचम जनरेशन (Present & Future – वर्तमान एवं भविष्य)
This is the generation of computers where computers are assigned automatic intelligence; they use artificial intelligence where they will use their own IQ too to solve a problem at end. In this generation computers are used for scientific, commercial, interactive online applications, multimedia and network applications. Programming was done in high-level programming languages such as C#, Java, Python etc.
पंचम जनरेशन के कंप्यूटर में आर्टिफिशियल (कृत्रिम) इंटेलिजेंस का उपयोग किया गया जो इसे कंप्यूटर टेक्नोलॉजी में सर्वोपरि सिद्ध करता है जिसमें ये अपना खुद के आई०क्यू० का भी इस्तेमाल करता है। इस पीढ़ी में कंप्यूटर का उपयोग वैज्ञानिक, वाणिज्यिक, इंटरैक्टिव ऑनलाइन अनुप्रयोगों, मल्टीमीडिया और नेटवर्क अनुप्रयोगों के लिए किया जाता है। प्रोग्रामिंग उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाओं जैसे C#, जावा, पायथन आदि में किया गया था।
Basics of Hardware and Software बेसिक हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर 
Computer (कंप्यूटर) system is the combination of hardware and software. Hardware are components of the Computer System; physical, Tangible pieces that we can see and touch as mother board, SMPS, VDU, Sound, RAM etc. Software (सॉफ्टवेर) is set of programs (which are step by step instructions) telling the Computer how to process data.
कंप्यूटर प्रणाली हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का कॉम्बिनेशन है। हार्डवेयर कंप्यूटर सिस्टम के घटक हैं भौतिक, टैन्जिबिल टुकड़े जिन्हें हम देख और छू सकते हैं जैसे मदर बोर्ड, एसएमपीएस, वीडीयू, साउंड, रैम आदि। सॉफ्टवेयर कई सारे प्रोग्रामों का सेट है (जो स्टेप बाय स्टेप निर्देश है) जो कम्प्यूटर को यह बताता है कि कैसे डाटा को प्रोसेस किया जाए।
Hardware – हार्डवेयर
Hardware is the physical parts of a computer and the software that provides instructions for the hardware to accomplish tasks. The boundary between hardware (हार्डवेयर) and software (सॉफ्टवेर) is connected through firmware software that is built-in to the hardware.
हार्डवेयर एक कंप्यूटर का भौतिक भाग है और सॉफ्टवेयर जो हार्डवेयर के कार्यों को पूरा करने के लिए निर्देश प्रदान करता है। हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बीच की सीमा को फर्मवेयर कहते है जो सॉफ्टवेयर के माध्यम से जुड़ी हुई है और हार्डवेयर में अंतर्निहित है।
In Computer system, following hardware components are available to perform various task कंप्यूटर प्रणाली में, विभिन्न कार्य करने के लिए निम्नलिखित हार्डवेयर घटक उपलब्ध हैं
Motherboard – मदरबोर्ड: It is the biggest electronic circuit board inside the computer system which holds the CPU, main memory and other parts, and has slots for expansion cards.
यह कम्प्यूटर सिस्टम के अन्दर सबसे बडा इलेक्ट्रानिक सर्किट बोर्ड है जो सीपीयू, मेन मेमोरी, और अन्य पार्ट्स को रखता है और इसमें एक्सपेन्सन कार्ड के लिए स्लाट्स होता है।
SMPS (Switch Mode power supply) – एसएमपीएस (स्विच मोड पॉवर सप्लाई): It converts the alternating current into direct current and provides current to the entire computer.
यह अल्टर्नेटिव करेन्ट को डायरेक्ट करेन्ट में बदलता और पूरे कंप्यूटर को करेन्ट प्रदान करता है।
Storage controllers – स्टोरेज कंट्रोलर्स  : Storage controllers of IDE, SCSI or other type, that control hard disk , floppy disk, CD-ROM and other drives; the controllers sit directly on the motherboard (on-board) or on expansion cards.
आई0 डी0 ई०, एस० सी० एस० आई० या अन्य प्रकार के स्टोरेज कन्ट्रोलर, जो हार्ड डिस्क, फ्लॉपी डिस्क, सीडी-रोम और अन्य ड्राइव को कन्ट्रोल करते हैं। कन्ट्रोलर सीधे मदरबोर्ड (ऑन-बोर्ड) या एक्सपेन्सन कार्ड पर स्थित होते हैं।
Graphics controller – ग्राफिक्स कंट्रोलर : It produces the output for the monitor.
ग्राफिक्स कन्ट्रोलर जो मॉनीटर के लिए आउटपुट प्रोड्युस करता है।
The hard disk (हार्ड डिस्क), floppy disk and other drives for mass storage.
मास स्टोरेज के लिए हार्ड डिस्क, फ्लापी डिस्क और अन्य डिवाइस का उपयोग होता है।
Interface controllers – इंटरफेस कंट्रोलर: Interface controllers (parallel, serial, USB, Fire-wire) to connect he computer to external peripheral devices such as printers or scanners.
इन्टरफेस कन्ट्रोलर (पैरलल, सीरियल, यूएसबी, फायरवायर) एक्सटर्नल पेरीफेरल डिवाइस से कम्प्यूटर को कनेक्ट रने के लिए होता है जैसे प्रिन्टर्स, या स्कैनर।
Software – सॉफ्टवेयर
It gives intelligence in Computer. Software (सॉफ्टवेर) is a generic (जेनेरिक) term for organized collections of computer (कंप्यूटर) data and instructions, often broken into two major categories: system software that provides the basic non-task-specific functions of the computer (कंप्यूटर), and application software which is used by users to accomplish specific tasks,
यह कंप्यूटर में इंटेलीजेंस देता है। सॉफ्टवेयर कंप्यूटर डेटा और निर्देशों के संगठित संग्रह के लिए एक सामान्य शब्द है, जिसे अक्सर दो प्रमुख श्रेणियों में विभाजित किया जाता है: सिस्टम सॉफ्टवेयर जो कंप्यूटर के बुनियादी गैर-कार्य-विशिष्ट कार्य प्रदान करता है, और अनुप्रयोग सॉफ्टवेयर जो उपयोगकर्ताओं द्वारा विशिष्ट कार्यों को पूरा करने के लिए उपयोग किया जाता है ।
First Generation – प्रथम जनरेशन (1945-1954)
About me