Page Setup in LibreOffice Calc

Page Setup in LibreOffice Calc
The parameters defined by the user that help determine how a printed page will appear. Those parameters can include everything from the size of page, margins of the page, orientation of the page and to quality of print page.
उपयोगकर्ता द्वारा परिभाषित पैरामीटर जो यह निर्धारित करने में मदद करते हैं कि एक प्रिंटेड पेज कैसे दिखाई देगा। उन पैरामीटर्स में पेज के आकार, पेज के मार्जिन, पेज के ओरियेंटेशन और प्रिंट पेज की गुणवत्ता से सम्बंधित सब कुछ शामिल हो सकता है।
Choose Format>Page and make your changes as Orientation of the page (Portrait or Landscape) and Margin of page, Header, footer, border.
Format>Page चुनें, और पेज के ओरिएंटेशन (पोट्रेट या लैंडस्केप) और पेज, हेडर, फुटर, बॉर्डर के मार्जिन के रूप में अपने बदलाव करें।
To change page orientation: पेज  ओरियेंटेशन को चेंज करना
1. Click the Format>Page>Page Style dialog box will appear.
क्लिक करें फार्मेट उसके बाद पेज उसके बाद पेज स्टाईल डॉयलॉग बॉक्स दिखाई देगा।
2. You can set page format as, Orientation (Portrait, Landscape), Margins Layout settings.
आप पेज फॉर्मेट का ओरियेंटेशन (पोर्टेट, लैडस्केप), मार्जिन लेआउट सेटिंग के रूप में सेट कर सकते हैं।
Page margin – पेज मार्जिन
A margin is the space between the text and the edge of your document. By default, a new document’s margins are set to Normal, which means it has a one-inch space between the text and each edge. Depending on your needs, Calc allows you to change your document’s margin size.
मार्जिन, टेक्स्ट और आपके डॉक्यूमेंट के किनारे के बीच का स्थान है। डिफॉल्ट रूप से, एक नया डॉक्यूमेंट का मार्जिन नॉर्मल पर सेट होता है, जिसका अर्थ है कि इसमें टेक्स्ट और प्रत्येक किनारे के बीच एक इंच का स्थान है। आपकी आवश्यकताओं के आधार पर, Calc आपको अपने डॉक्यूमेंट के मार्जिन आकार को बदलने की अनुमति देता है।
To format page margins: पेज मार्जिन फार्मेट करने के लिए  
• Click the Format>Page>Page Style dialog box will appear.
क्लिक करें फार्मेट उसके बाद पेज उसके बाद पेज स्टाईल डॉयलॉग बॉक्स दिखाई देगा।
• You can set page margins according to your requirement.
अपनी आवश्यकता के अनुसार आप पेज मार्जिन सेट कर सकते हैं।
Printing a Spreadsheet (Ctrl+P)- स्प्रेडशीट को प्रिन्ट करना
The Print dialog, reached from File > Print, has some Calc-specific options: Print and Print Range. File > Print से पहुंची प्रिंट डॉयलॉग में कुछ कैल्क-विशिष्ट विकल्प हैं: प्रिंट और प्रिंट रेंज
For printing a portion of the spreadsheet, do the following:
स्प्रेडशीट के किसी भाग को प्रिंट करने के लिए निम्न कार्य करें
1. Select the range of data that you want to print.
उस डेटा के रेंज का चयन करें, जिसे प्रिंट करना चाहते हैं।
2. On the File menu> click Print.
फाइल मेन्यू पर जाकर, प्रिंट पर क्लिक करें।
3. Under Settings, click Print Selection.
सेटिंग्स के तहत प्रिंट सेलेक्शन पर क्लिक करें।
Note: If a spreadsheet has a defined print area, Sheet prints only that area.
नोट: यदि स्प्रेडशीट में एक डिफाईन प्रिंट एरिया होता है, तो शीट केवल उस एरिया को प्रिंट करता है।
Saving Spreadsheet – स्प्रेडशीट को सेव करना 
You can save the Calc spreadsheet by using the steps given below:
आप नीचे दिए गए स्टेप्स के माध्यम से कैल्क स्प्रेडशीट को सेव कर सकते हैं
• Click on the Save button on the Quick Access Toolbar or press Ctrl+S. Quick Access टूल बार पर स्थित सेव बटन पर क्लिक करें या Ctrl+S दबाएं।
• If you are saving the file for the first time, the Save As dialog box will appear.
यदि आप पहली बार फाइल सेव कर रहे हैं, तो सेव एज डॉयलॉग बॉक्स दिखाई देगा।
• You have to enter the name of the file and loaction where you want to save.
आपको फाइल का नाम दर्ज करना होगा और जहां आप सेव करना चाहते हैं, वहां लोकेशन देना होगा।
• Click on the save button.
सेव बटन पर क्लिक करें।
Saving a spreadsheet on other location –
किस अन्य लोकेशन पर वर्कबुक सेव करना
You can use the Save As commands to copy the data of the spreadsheet file to a different location or format.
सेव ऐज पर क्लिक करें, सेव एज डायलॉग बॉक्स प्रदर्शित होगा जहाँ आप अपने फाइल का स्थान या नाम परिवर्तित कर फाइल को सेव कर सकते हैं।
Click the File Tab→Save As; Type a name for the workbook and locate the file where you to save; Click Save.
Click the File Tab>save As, वर्कबुक के लिए एक नाम टाइप करें और उस फाइल को ढूंढें जहां आपको सेव करना है, सेव पर क्लिक करें।
Opening and Closing – ओपनिंग एवं क्लोजिंग
Opening an Existing Calc spreadsheet (Ctrl+0) – मौजूदा Calc को खोलना  
You can open existing Calc spreadsheet already created earlier.
आप पहले से मौजूद बने कैल्क स्प्रेडशीट को खोल सकते हैं।
Steps for Opening an Existing Calc spreadsheet:
पहले से मौजूद कैल्क स्प्रेडशीट को ओपेन करने के स्टेप्स
• Click File and then select Open in File Menu bar (Ctrl+0).
फ़ाइल पर क्लिक करें और फिर मेनू बार में ओपेन (Ctrl+O) का चयन करें।
• Click the Open icon on the Standard toolbar.
स्टैण्डर्ड टूलबार पर ओपेन आइकन पर क्लिक करें।
• A dialog box will appear on you screen, you can select the desired spreadsheet file you want to Open.
एक डायलॉग बॉक्स आपको स्क्रीन पर दिखाई देगा, आप इच्छित स्प्रेडशीट फ़ाइल का चयन कर सकते हैं जिसे आप ओपेन करना चाहते हैं।
• Opening CSV files- CSV (Comma Separated Value) files are text file. You can open the CSV files by choosing File>Open. You have to locate the CSV files (.csv extension) you want to open. CSV फाइलें खोलना- CSV (कामा सेपरेटेड वैल्यू) फाइलें टेक्स्ट फाइल हैं। आप File>open चुनकर CSV फाइलों को ओपेन कर सकते हैं। आपको CSV फाइलों (.csv एक्सटेंशन) को खोलना होगा।
Closing Calc spreadsheet – क्लोजिंग कैल्क स्प्रेडशीट
The two commands Close and Exit are similar, yet have an important distinction. Close closes the active spreadsheet, but leaves the Calc application and other spreadsheet files open. Just click on X button on the right side of title bar or go to file and choose exit. Before closing any spreadsheet, make sure that it should be saved properly.
क्लोज़ एंड एक्ज़िट दो कमाण्ड समान हैं, फिर भी एक महत्वपूर्ण अंतर है। क्लोज एक्टिव स्प्रेडशीट को बंद कर देता है, लेकिन कैल्क एप्लिकेशन और अन्य स्प्रेडशीट फाइलों को छोड़ देता है। टाइटल बार के दाईं ओर सबसे अन्त में X बटन पर क्लिक करें या फाइल पर जाएं और एक्जिट को चुनें। किसी भी वर्कशीट को बंद करने से पहले, सुनिश्चित करें कि इसे ठीक से सेव किया गया है, कि नहीं।
Formatting Cell (Font, Alignment, Style)
सेल की फार्मेटिंग(फॉन्ट, अलाइनमेंट, स्टाईल)
We can perform formatting to the cell according to our need. We can format the cell that what it is going to accept as input and its alignment, colour filling, Protection, Font changing and finally setting the height and width of the cell. In the Input format, General Data type is to accept all kind of values whether text or numbers and number data type is to accept only numerical values and the short date data type is to accept the date value in the cell. They all have their own standard to put a value in the ceil. A cell can be formatted in so many formats like General, Number, Short date, Long date, Time, Accounting, Percentage, Scientific and Fractions and so on. Here are some simple formatting data types discussed below.
हम अपनी जरूरत के हिसाब से सेल के फॉर्मेट को बदल सकते हैं। हम सेल को इस प्रारूप में बदल सकते हैं, कि यह पहले से निर्धारित कर लेगा कि इसे कैसा इनपुट देना है। इसके साथ-साथ वह इनपुट के अलाइनमेंट, कलर फीलिंग, प्रोटेक्शन, फॉन्ट बदलने और अंत में सेल की ऊंचाई और चौड़ाई भी निर्धारित करते हैं। इनपुट प्रारूप में, जनरल डेटा टाइप सभी प्रकार के मूल्यों को स्वीकार कर लेता है, चाहे वह टेक्स्ट हो, संख्या हो परन्तु संख्या डेटा टाइप केवल संख्यात्मक मानों को स्वीकार करता है और शार्ट डेटा टाइप सेल में केवल डेट वैल्यू ही स्वीकार होता है। सेल में वैल्यू डालने के लिए इन सभी का अपना मानक होता है। एक सेल को जनरल, नंबर, शॉर्ट डेट, लॉन्ग डेट, टाइम, अकाउंटिंग, परसेंटेज, साइंटिफिक और फ्रैक्शंस आदि जैसे कई फॉर्मेट में सेट किया जा सकता है। नीचे इसकी चर्चा की गई है, और कुछ सरल प्रारूपण डेटा टिप्स दिए गए
• General- This formatting of the cell accepts text and numbers value both in the cell.
जनरल- सेल का यह फॉर्मेट, टेक्स्ट और संख्याओं दोनों को सेल में स्वीकार करता है।
• Number- This formatting of the cell accepts only numerical values in the cell.
नम्बर– सेल का यह फॉर्मेट, सेल में केवल संख्यात्मक मानों को स्वीकार करता है।
• Long date- This formatting accepts only the values as in the format of date & time.
लांग डेट- यह फॉर्मेट केवल दिनांक और समय के मानों को स्वीकार करता है।
• Percentage- This kind of formatting accepts only numerical values and displays it with % symbol.
परसेंटेज- इस तरह का फॉर्मेट केवल संख्यात्मक मूल्यों को स्वीकार करता है और इसे % प्रतीक के साथ प्रदर्शित करता है।
• Fraction- Fraction formatting accepts only fractional values like 2.500, 3.345 etc.
फ़ैक्शन- इस तरह का फॉर्मेट केवल फ्रैक्शन जैसे 2.500, 3.345 आदि को स्वीकार करता है।
• Scientific- This formatting accepts scientific values or standard mathematical equation values.
साइंटिफिक- यह फॉर्मेटिंग वैज्ञानिक मान या मानक गणितीय समीकरण मान को स्वीकार करता है।
• Custom- This formatting allows the user to make a custom formatting type to be used.
कस्टम यह फॉर्मेटिंग यूजर को एक कस्टम फॉर्मेट प्रकार का उपयोग करने की सुविधा देता है।
Changing Font, Size and Style – फॉन्ट, साइज एवं स्टाईल में बदलाव
About me