Introduction to sql free online course

Introduction to sql free online course

What is SQL?

SQL Stands for “Structured Query Language”. Every relational database software interact with a language known as SQL, because it’s a simple English like language  which guidelines are provided by a standard organization ‘ANSI’ adopted by all database  vendors like Oracle, MySql, Microsoft etc..
An SQL is very complex language to reduce its complexity; it can sub-categorize into 5 sub languages.

SQL का पूरा नाम होता है Structured Query Language जितने भी रिलेशनल डेटाबेस हैं जैसे Oracle MySql, MS-Access Row, Column के format में Database को store करके  वे सभी एक language का Use करके जिसका नाम  है SQL, SQL एक language है ना कि Database SQL जो है simple English Language जैसा कि इसमें काम करना बहुत ही आसान होता है इसमें इंग्लिश लैंग्वेज की तरह Query pass करते हैं और अपने किसी भी डेटाबेस में काम कर सकते हैं यह जो SQL Language है  इसका Guideline कौन Provide किया है  अमेरिकन नेशनल स्टैण्डर्ड इंस्टीटूट (ANSI)  इसने SQL  को लाइसेंस Provide किया है इसेक Guideline को इसी ने Provide  किया है इसके गाइड लाइन को सारे डेटाबेस ने एक्सेप्ट किया  है जैसे Oracle, MySql, Microsoft इत्यादि  यह SQL language काफी बड़ा था इसमें काम करना बड़ा मुश्किल होता था तो लोगो ने क्या किया कि  इसकी Complexity को कम करके इसे 5 sub-language  में बाँट दिया ।

  1. DDL (Data Definition Language)
    इस DDL के अंदर 5 Command आते हैं ।
    CEATE, DROP, TURNCATE, ALTER, RENAME.
    Create जिसकी मदद से हम टेबल क्रिएट कर सकते हैं ।
    Drop जिसकी मदद से हम टेबल को हमेशा के लिए डेटाबेस से डिलीट कर सकते हैं ।
    Truncate जिसमे हम टेबल के डेटा को डिलीट कर सकते है टेबल के structure को रहने देते सकते हैं ।
    Alter की मदद से हम टेबल में कुछ भी अल्टेरिंग ऑपरेशन परफॉर्म कर सकते हैं ।
    Rename की मदद से टेबल के नेम को रीनेम कर सकते हैं।
  2. DML (Data Manipulation Language)
    इस DMLमें 3 Query आता है ।
    INSERT, UPDATE, DELETE.
    Inset की मदद से जो भी टेबल हम क्रिएट किये थे उसमे डेटा इन्सर्ट कर सकते हैं ।
    Update की मदद से मानलो हमे किसी भी डेटा को अपडेट करना हो तो हम अपडेट कर सकते हैं।
    Delete अगर हमें कोई भी चीज डिलीट करनी हो तो हम डिलीट क्वेरी की मदद से उसे डिलीट कर सकते हैं ।
  3. DQL (Data Query Language)
    इसमें एक ही क्वेरी आता है इसे Data retrieval language भी कह सकते हैं ।
    SELECT इसका इस्तेमाल डेटाबेस में जो भी रिकॉर्ड इन्सर्ट किये हैं उसे देखने के लिया करते हैं ।
  4. DCL (Data Control Language)
    यह पुरे डेटाबेस को कण्ट्रोल करने का काम करता है । Grant, Revoke अगर हम किसी डेटाबेस को ग्रांट परमिशन दे देते हैं तो इसे दूसरा यूजर कोई भी यूज़ कर सकता है और revoke ग्रांट के परमिशन को रिमूव करने का काम करता है ।
  5. TCL (Transaction Control Language)
    COMMIT, ROLLBACK, SAVPOINT

Enter user-name: SYSTEM/oracle
SQL>connect sys/[email protected]:1521/XEPDB1 as sysdba; (Pluggable Database PDB)
Connected.
SQL>SELECT NAME, OPEN_MODE, CDB FROM v$database;
NAME OPEN_MODE CDB (Container Database)
———————————
XE READ WRITE YES

SQL>SELECT * FROM GLOBAL_NAME;
GLOBAL_NAME
————————————————

Create Users
SQL>CREATE user asif identified by 123;
SQL>GRANT ALL PRIVILEGES TO asif;

SQL>conn asif as sysdba;
password 123

SQL>alter user asif identified by asif;
User altered.
SQL>alter user asif account unlock;
User altered.
SQL>connect asif/[email protected]:1521/XEPDB1;
Connected.

SQL Table Query
About me